0

वेब होस्टिंग क्या है और कैसे खरीदते है पूरी जानकारी हिंदी में

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

वेब होस्टिंग एक ऑनलाइन इंटरनेट पर स्थान है जहां आपकी वेबसाइट संग्रहीत होती है। कई कंपनियों द्वारा वेब होस्टिंग प्रदान की जाती है। होस्टिंग प्लान का चयन करने से पहले आप अपना डोमेन नाम चुन लेना चाहिए । ऑपरेटिंग सिस्टम के अनुसार होस्टिंग दो प्रकार की होती है, विंडो होस्टिंग और लिनक्स होस्टिंग। लिनक्स एक ओपन सोर्स इसलिए आप आसानी से उपयोग कर सकते है। इसलिए हम लिनक्स होस्टिंग चुनते हैं। वेब होस्टिंग क्या है और कैसे खरीदते है पूरी जानकारी हिंदी में

वेब होस्टिंग क्या है और कैसे खरीदते है पूरी जानकारी हिंदी में

कई कंपनिया डोमेन और होस्टिंग दोनों प्रदान करती है । इसलिए यदि आप इन दोनों को एक ही कंपनी में लेते हैं तो वे हमे डोमेन सर्वर को कनेक्ट करके देते है जो कि हमारे लिए बहुत मददगार होता है। बहुत सी अच्छी कम्पनिया 24/7 ग्राहक सहायता प्रदान करती है। जिससे यदि हमे कोई प्रॉब्लम होती है तो हम कभी भी संपर्क कर सकते है

होस्टिंग कंपनियों का चयन करना आपके ब्लॉग में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है क्योंकि आपकी वेबसाइट का पूरा प्रदर्शन होस्टिंग प्रदाता कंपनी पर निर्भर करता है। ब्लॉग का आपका पूरा डेटा सर्वर में संग्रहीत है और वे आपके ब्लॉग को सुरक्षा भी प्रदान करते हैं।
आपकी वेबसाइट की पूर्ण कार्यक्षमता और प्रदर्शन आपके होस्टिंग प्रदाता पर निर्भर करता है। इसलिए यदि आप एक अच्छा सेवा प्रदाता चुनते हैं तो आपकी वेबसाइट का रनिंग टाइम कम होगा और वे आपको 24/7 ग्राहक सहायता भी देते हैं।

होस्टिंग प्रोवाइड करने वाली वेबसाइट की लिस्ट

  1. Bluehost
  2. SiteGround
  3. HostGator Cloud
  4. Hostinger
  5. GoDaddy
  6. WebHostingBuzz

ऊपर दिए गए वेबसाइट के लिंक पर क्लिक करके आप आसानी से होस्टिंग खरीद सकते है।

वेब होस्टिंग कितने प्रकार की होती है।

इस्तेमाल के अनुसार होस्टिंग 6 प्रकार की होती है ।

  1. Shared web Hosting
  2. Virtual Private Server (VPS)
  3. Dedicated Hosting
  4. Cloud Web Hosting
  5. WordPress Hosting
  6. Re-seller Hosting

1. Shared web Hosting

एक Shared web Hosting में, आपके और अन्य वेबसाइट के मालिकों के बीच एक सर्वर साझा किया जाता है। इसमें भौतिक सर्वर और सॉफ्टवेयर एप्लिकेशन को सर्वर के भीतर साझा करना शामिल है। साझा होस्टिंग सेवाएं सस्ती हैं क्योंकि सर्वर को संचालित करने की लागत आपके और इन अन्य मालिकों के बीच साझा की जाती है। हालांकि, कई डाउनसाइड हैं, जैसे कि सर्वर की गति का धीमा होना।

साझा वेब होस्टिंग के फ़ायदे :
  • वेब होस्टिंग लागत कम होती है ।
  • सर्वर पर स्थापित करना आसान है।
  • किसी तकनीकी ज्ञान की आवश्यकता नहीं होती।
  • शुरुआती और छोटी वेबसाइटों के लिए बढ़िया।
साझा वेब होस्टिंग नुकसान :
  • अन्य वेबसाइटों के साथ सर्वर को साझा करना पड़ता है ।
  • प्रदर्शन के मुद्दे आपके नियंत्रण से बाहर हैं।
  • साइट लोडिंग में अधिक समय।
  • अधिक ट्रैफिक में वर्क नहीं करती है।

2. Virtual Private Server (VPS)

VPS का अर्थ “वर्चुअल प्राइवेट सर्वर” है। जैसा कि नाम से पता चलता है, यह एक निजी सर्वर है, जिसका अर्थ है, यह विशेष रूप से आपका होगा। VPS सेवा होने से आपको सभी संसाधनों को काम में लेने की छूट मिलती है, जिसे आपको किसी के साथ साझा करने की आवश्यकता नहीं होती है। यह आपके बहुत ही समर्पित या निजी सर्वर की तरह है, लेकिन आभासी है।

इस मामले में, “आभासी” का अर्थ है कि यह एक भौतिक सर्वर पर एक विभाजन है, जो आपको समर्पित है। यह वर्चुअल सर्वर आपको रूट एक्सेस हासिल करने, अपने पसंदीदा ओएस को स्थापित करने और अद्वितीय स्वतंत्रता के साथ अपने प्रोजेक्ट पर काम करने का मौका देता है।

इसमें आपको समर्पित सर्वर दिया जाता है तथा उच्च अपटाइम दर और तेज गति से लोडिंग होती है। लेकिन अन्य वेबसाइटों के साथ मुख्य सर्वर साझा करना होता है।

3. Dedicated Hosting

Dedicated Hosting वेब होस्टिंग लाइन में सबसे ऊपर हैं। जैसा कि नाम से ही स्पष्ट है, आपके पास एक समर्पित सर्वर होगा जो आपका है, और आप अकेले हैं। यह वेब होस्टिंग का सबसे महंगा प्रकार है, लेकिन यह बहुत से लाभों के साथ आता है। चूंकि आप अन्य वेबसाइटों के साथ संसाधनों या कुछ और साझा नहीं कर रहे हैं, इसलिए आपकी साइट बहुत ही अच्छा प्रदर्शन करेगी।

एक समर्पित सर्वर पर होस्ट की जा रही वेबसाइटों में सर्वर सेटिंग्स पर पूरा तकनीकी नियंत्रण होता है। आप सॉफ़्टवेयर, कॉन्फ़िगरेशन, और कुछ भी आप की जरूरत है वो इस सर्वर पर कर सकते है। यहाँ आपको अत्यधिक उच्च दर और बिजली की तेज़ लोडिंग गति की अपेक्षा करनी चाहिए। आपको अपने प्रदर्शन को प्रभावित करने वाली अन्य वेबसाइटों के ट्रैफ़िक के बारे में चिंता करने की ज़रूरत नहीं है।

4. Cloud Web Hosting

क्लाउड होस्टिंग एक नए प्रकार की वेब होस्टिंग है। इसे सर्वश्रेष्ठ रूप से वीपीएस के हाइब्रिड संस्करण के रूप में वर्णित किया जा सकता है, लेकिन ये अधिक लागत वाली होस्टिंग सर्विसेज है। क्लाउड होस्टिंग प्लान कई रिमोट सर्वर के साथ आते हैं। प्रत्येक सर्वर की अलग-अलग जिम्मेदारियां होती हैं। यदि सर्वरों में से किसी एक पर लोड आ जाता है या कोई समस्या होती है, तो नेटवर्क के अन्य सर्वर उन जिम्मेदारियों को संभाल लेंगे और लोड को कम करके वेबसाइट को अच्छी तरह से चलाते रहेंगे।

50,000 से अधिक मासिक पृष्ठ विज़िट वाली कोई भी वेबसाइट क्लाउड योजना पर विचार कर सकती है। वे वेबसाइटें जिन्होंने अपनी साझा योजना को आगे बढ़ा दिया है और अपग्रेड करने की आवश्यकता है, वे VPS के विकल्प के रूप में क्लाउड होस्टिंग को अपना सकती हैं।

क्लाउड होस्टिंग आप की वेबसाइट को हाई सिक्योरिटी तथा कम अप्रत्याशित डाउनटाइम प्रदान करती है।

5. WordPress Hosting

वर्डप्रेस होस्टिंग एक बहुत ही विशिष्ट प्रकार की वेब होस्टिंग है। जैसा कि आप नाम से पता चलता है कि यह एक CMS के रूप में वर्डप्रेस का उपयोग करने वाली वेबसाइटों के लिए है। वर्डप्रेस होस्टिंग मूल रूप से वेब होस्टिंग है जो वर्डप्रेस के लिए बनाई गई है।
वर्डप्रेस होस्टिंग में आप को इनबिल्ट कंस मिलता है। जिसको आप आसानी से उपयोग में ले सकते है।

वर्डप्रेस होस्टिंग में आमतौर पर सुरक्षा को जोड़ा गया है जो विशेष रूप से उन वेबसाइटों के लिए डिज़ाइन किया गया है जो वर्डप्रेस पर चल रहे हैं। चूंकि वर्डप्रेस दुनिया भर में सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाने वाला CMS है, इसलिए वे वेबसाइट साइबर अपराध के लिए एक उच्च जोखिम हैं। वर्डप्रेस होस्टिंग में इन चीज़ो का विशेष ध्यान रखा गया है।

6. Reseller Hosting

Reseller hosting वेब होस्टिंग का एक रूप है जिसमें खाता मालिक को तृतीय पक्षों की ओर से वेबसाइटों की मेजबानी के लिए अपने आवंटित हार्ड ड्राइव स्थान और बैंडविड्थ का उपयोग करने की क्षमता होती है। पुनर्विक्रेता मेजबान की सेवाओं की थोक खरीद करता है और फिर उन्हें लाभ के लिए ग्राहकों को बेचता है। यह होस्टिंग सस्ती होती है।

आप ने वेब होस्टिंग क्या है और कैसे खरीदते है पूरी जानकारी हिंदी में प्राप्त की। यदि आप का कोई प्रश्न हो तो कमेंट में लिखे। डोमेन और होस्टिंग खरीदने से पहले वेबसाइट को चेक कर ले। उस के बाद ही ख़रीदे।

डोमेन नाम क्या होता है और कैसे खरीदते है – हिंदी में जानने के लिए यहाँ क्लिक करे।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

hindiduniyaa

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *