0

Vibhajan Vibhishika Smriti Diwas क्यों जरुरी है ?

Spread the love

75 वें स्वतंत्रता दिवस की सभी को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं। 14 अगस्त 2021 को प्रधान मंत्री मोदी ने विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस मनाने की शुरुआत की है। लेकिन क्या आप जानते है vibhajan vibhishika smriti diwas मनाने की क्या जरुरत है। 15 अगस्त को हमारा देश आजादी की खुशियाँ मनाता है तो ऐसा क्या हुआ था 14 अगस्त 1947 को कि इसे विभाजन विभीषिका दिवस के रूप में मनाया जाए।

vibhajan vibhishika smriti diwas
विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस

Vibhajan Vibhishika Smriti Diwas क्यों जरुरी है ?

15 अगस्त 2021 को भारत ने अपना 75 वा स्वतंत्रता दिवस मनाया है। यह बहुत ही हर्ष और उल्लास से मनाया जाता है और यह सभी भारतीयों का हक़ भी है। इसी दिन हम सैकड़ो साल की गुलामी से आजाद हुए थे। लेकिन यह आजादी हमे ऐसे ही नहीं मिली। इसी के साथ अंग्रेजो ने अपनी आखरी चाल भी चल दी और देश के दो टुकड़े कर दिए। जिसको हमारे देश के नेताओं ने भी स्वीकार कर लिया था।

भारत को आजादी केवल चरखे चलाने से नहीं मिली थी इसके लिए लाखों लोगो ने अपने प्राणों का बलिदान दिया था। उसके बाद धर्म के आधार पर भारत विभाजन का दंश हमारे ऊपर लाद दिया गया। यह विभाजन कोई आसान नहीं था। इसमें भी हजारों लाखों लोगों ने अपने प्राण गवाए। जब विभाजन धर्म के आधार पर हुआ तो एक देश तो मुस्लिमों के लिए अलग से बन दिया गया और दूसरी तरफ भारत को धर्मशाला घोषित कर दिया। जिसका परिणाम हम आज तक भुगत रहे है। तीन बार युद्ध और रोज़ की आतंकी घटनाओं में हमारे बहुत से वीर जवानों ने अपना बलिदान देना पड़ा है। दिनों की जानकारी के लिए Aaj Kaun Sa De Hai पर जाएं।

यदि आप को बोलो जाये कि आप को रातों रात अपना घर बार छोड़ कर जाना है तो आप को कैसा लगेगा। विभाजन में यह सब लाखों लोगों ने झेला। यहाँ तक तो फिर भी ठीक था लेकिन इसके साथ ही उन लोगों ने जो यातनाये झेली उनका वर्णन करना बहुत ही मुश्किल है। भारत से अलग होकर जो मुस्लिम देश बना उसमें से ट्रैन भर भर का लाशें आई। महिलाओं पर अत्याचार और बलात्कार की इतनी घटनाएं हुई यहाँ तक की छोटी छोटी बच्चियों को भी नहीं छोड़ा गया।

इसका कुछ भाग आप गदर मूवी में देख सकते है लेकिन स्थिति उससे भी भयाभय थी। उन घटनाओं के बारे में सुनकर ही रूह काँप उठती है तो सोचो जिन लोगों ने इन सब को झेला है उन पर क्या गुजरी होगी।

विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस देश के दो टुकड़ो में विभाजित होने की याद में मनाया जायेगा। यह उन लोगों की याद दिलाएगा जिन्होंने अपने प्राण त्याग दिए। यह हर भारतीय को उस भीषण मंजर की याद दिलाएगा क्योकि कुछ घटनाये कभी भी भूलने बाली नहीं होती।
यह हमें याद दिलाएगा कि जो लोग अपने इतिहास से नहीं सीखते उनकी क्या हालत होती है। विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस हमें उन राजनेताओ की याद भी दिलाएगा जिन्होंने अपनी राजनैतिक महत्वाकांक्षा के लिए लोगों को यह सब सहने के लिए मजबूर किया।

यह सब हमें पढ़ाया नहीं गया जिससे अधिकतर लोग इस बारे में नहीं जानते। फिर भी यदि आप को ये बाते समझ में नहीं आ रही है और ऐसा लग रहा है ये सब झूठ है तो आप को इसका कुछ अंश अफगानिस्तान में घटित हो रही घटनाओं में देख लेना चाहिए। स्थिति तो उससे भी खतरनाक थी।

Vibhajan Vibhishika Smriti Diwas कब मनाया जाएगा ?

प्रधानमंत्री मोदी ने 14 अगस्त 2021 से हर साल 14 अगस्त को vibhajan vibhishika smriti diwas मनाने की घोषणा की है।

इसलिए सभी भारतीयों को जो भारत से प्यार करते है उन्हें उन घटनाओं को याद दिलाने और आजादी के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वालों को याद करने के लिए हमें vibhajan vibhishika smriti diwas मनाने की जरुरत है।

Keyword: Partition Horrors Remembrance Day

hindiduniyaa

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *