1

20 Websites से हाई क्वालिटी Do Follow बैकलिंक बनाये

Spread the love
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    1
    Share

हेलो दोस्तों, जो लोग ब्लॉगिंग या SEO करते है वो सभी बैकलिंक के बारे में अच्छी तरह से जानते है। ब्लॉग या वेबसाइट को गूगल में रैंक करवाने के लिए बैकलिंक का होना बहुत आवशयक है। उसमे भी यदि हाई अथॉरिटी बैकलिंक हो तो उससे आप के ब्लॉग को बहुत फायदा मिलता है। यदि आप ब्लॉगिंग में नये है और आप को बैकलिंक बनाने में थोड़ी दिक्कत होती है। तो यह आर्टिकल आप के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। क्योकि इस लेख में हम आप को 20 Websites से हाई क्वालिटी Do Follow बैकलिंक बनाये, के बारे में बता रहे है।

20 Websites से हाई क्वालिटी Do Follow बैकलिंक बनाये

आगे बढ़ने से पहले हमारे दिमाग में एक सवाल आता है की

क्या बैकलिंक ब्लॉग को रैंक करने के लिए जरुरी है ?

हाई अथॉरिटी बैकलिंक से क्या फायदा है ?

एक ही साइट से 10 बैकलिंक या 10 अलग अलग साइट से बैकलिंक, कोनसा फायदे मंद है ?

ऐसे और भी कई बैकलिंक से जुड़े सवाल है जिनका जवाब हम इस लेख में पड़ेंगे।

URl Shortener Websites in Hindi | पैसा कमाने का आसान तरीका

क्या बैकलिंक ब्लॉग को रैंक कराने के लिए जरुरी है ?

दोस्तों बैकलिंक हमारे ब्लॉग के डोमेन अथॉरिटी और पेज अथॉरिटी को बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है। जिससे सर्च इंजन पर हमारे ब्लॉग को मजबूती मिलती है और ब्लॉग पोस्ट के जल्दी रैंक करने करने की सम्भावना होती है।

आजकल इंटरनेट पर कम्पटीशन भी बहुत ज्यादा बढ़ गया है । इसलिए यदि आप अपने ब्लॉग को रैंक करवाना चाहते है तो बैकलिंक बहुत जरुरी है।

Google Sitelinks क्या है और Sitelinks सर्च रिजल्ट में कैसे दिखाये

हाई अथॉरिटी बैकलिंक से क्या फायदा है ?

वेबसाइट जिनका डोमेन अथॉरिटी और पेज अथॉरिटी बहुत ज्यादा है वो हाई अथॉरिटी बैकलिंक प्रदान करने वाली साइट की लिस्ट में आती है। लेकिन ये आसानी से नई साइट को बैकलिंक नहीं देती। उसके लिए आप को कोसिस करनी पड़ती है। यदि आप इन साइट्स से बैकलिंक लेते है तो सर्च इंजन पर आप की साइट का रेपुटेशन बढ़ता है। DA, PA भी बढ़ते है।

हाई अथॉरिटी साइट से 1 बैकलिंक, बहुत सी कम अथॉरिटी वेबसाइट से लिए गए बैकलिंक के बराबर होता है।

Elements App क्या है ? | डाउनलोड Elements App हिंदी में

एक ही साइट से 10 बैकलिंक या 10 अलग-अलग साइट से बैकलिंक, कोनसा फायदे मंद है ?

दोस्तों बैकलिंक तो सभी महत्वपूर्ण होते है। लेकिन यदि हम एक ही साइट से 10 बैकलिंक बनाये और यदि 10 अलग अलग साइट से बैकलिंक बनाये तो उनमे सबसे ज्यादा फायदे मंद 10 अलग – अलग साइट से बैकलिंक लेना होगा। क्योकि तब आप की site 10 different websites से कनेक्ट होंगी।

इस प्रकार हमने बैकलिंक से जुडी कुछ महत्वूर्ण बाते जानी। अब हम उन वेबसाइट के बारे में जानेगे जिनसे आप अपनी ब्लॉग के लिए Do Follow बैकलिंक बना सकते है।

Flyout Sponsorship से कमाए Dollar में

20 Websites से हाई क्वालिटी Do Follow बैकलिंक बनाये

अब हम बात कर रहे है 20 ऐसी वेबसाइट के बारे में जहाँ से आप आसानी से अपनी ब्लॉग के लिए बैकलिंक बना सकते है।

  1. kdp.amazon.com
  2. amazines.com
  3. peatix.com
  4. Google site
  5. articlebiz.com
  6. twitter.com
  7. pinterest.com
  8. tumblr
  9. facebook
  10. wix
  11. myspace.com
  12. stackoverflow
  13. quora
  14. buzzfeed
  15. medium
  16. LinkedIn
  17. youtube
  18. fiverr
  19. freelancer.com
  20. guru.com

दोस्तों आप हमारी वेबसाइट https://hindiduniya.com पर भी बैकलिंक बना सकते है। guest posting और कमेंट के द्वारा ।

आप 20 बैकलिंक को फाइल में डाउनलोड करने के लिए नीचे दिए गए डाउनलोड बटन पर क्लिक करें।

दोस्तों ये सभी साइट आप को बैकलिंक बनाने का अच्छा मौका देती है। यहाँ पर आप कुछ ही Clicks में बैकलिंक बना सकते है। ये सभी वेबसाइट रियल है इनमे आप को कोई भी ऐसी साइट नहीं मिलेगी जहा पर आप को बैकलिंक बनाने में कोई प्रॉब्लम हो।

ओके का फुल फॉर्म क्या होता है – Full Form of OK in Hindi

उम्मीद करता हूँ आप को ये लेख 20 Websites से हाई क्वालिटी Do Follow बैकलिंक बनाये, पसंद आया होंगे। यदि बैकलिंक बनाने में आप को कोई दिक्कत आये तो कमेंट बॉक्स में लिख सकते है।
धन्यवाद।

  •  
    1
    Share
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

hindiduniyaa

One Comment

  1. Excellent post. Keep writkng such kind off information onn your blog.

    Im really impressed by it.
    Hi there, You’ve done an excellent job. I’ll definitely digg iit and individually suggest tto my friends.
    I’m confident they will be benefited from this
    website.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *